आज कि ताजा खबर ,मुख्य समाचार पढ़े पूरी खबर

0
37

कम दबाव का क्षेत्र पश्चिम-मध्य और उससे सटे उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा तट से सटे उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर है, जिसमें संबंधित चक्रवाती परिसंचरण मध्य क्षोभमंडल स्तर तक फैला हुआ है. अगले 24 घंटों के दौरान यह और अधिक चिह्नित हो जाएगा.

विंड शीयर जोन समुद्र तल से 3.1 और 7.6 किमी के बीच दक्षिण प्रायद्वीप पर लगभग 15 डिग्री उत्तर में अक्षांश के साथ चल रहा है. इस मौसमी सिस्टम के प्रभाव के कारण अगले 24 घंटे के दौरान, आंध्र प्रदेश, दक्षिण ओडिशा, दक्षिण छत्तीसगढ़, तेलंगाना, उत्तराखंड और महाराष्ट्र में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है.

मछुआरों को समुद्र में नहीं उतरने की सलाह

दक्षिण गुजरात, गंगीय पश्चिम बंगाल और तटीय कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश यह साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है. मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, आंतरिक ओडिशा, केरल, आंतरिक कर्नाटक, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, जम्मू-कश्मीर और गुजरात के बाकी हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. बिहार, झारखंड, तमिलनाडु, लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और पूर्वी गुजरात में हल्की बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने अगले 36 घंटे में पश्चिम बंगाल, ओडिशा तटों के आसपास 45 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान जताया है. मछुआरों को सोमवार तक समुद्र में नहीं उतरने की सलाह दी गई है.

बीते 24 घंटे में इन राज्यों में दर्ज की गई बारिश

शनिवार को तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और गोवा में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई. केरल, तटीय कर्नाटक, गुजरात क्षेत्र, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, दक्षिण छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, जम्मू संभाग, दक्षिण मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा और गंगीय पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश हुई. आंतरिक तमिलनाडु, मध्य प्रदेश के शेष हिस्सों, गुजरात के शेष हिस्सों, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, झारखंड, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, लक्षद्वीप और पूर्वोत्तर भारत में छिटपुट हल्की बारिश हुई..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here