जानिए अब नए फोन और वॉच में एक ऐसा फीचर भी है, जिसने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है।

0
38

नए फोन और वॉच में एक ऐसा फीचर भी है, जिसने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है। दरअसल, हम बात कर रहे हैं  फीचर की। ऐप्पल का कहना है कि यह फीचर इमरजेंसी में लोगों के लिए जीवन रक्षक साबित हो सकता है, यह न सिर्फ समय रहते लोगों की जान बचा सकता है बल्कि सरकारी एजेंसियों के भी वरदान साबित हो सकता है, ताकि उन्हें जल्दी सूचना मिले और वे समय पर मौके पर पहुंच सकें।

खास बात यह है कि नई आईफोन 14 सीरीज के भी मॉडल और में ये सेफ्टी फीचर मिलता है। लेकिन, निश्चित रूप से, इस समय, क्रैश डिटेक्शन फीचर अमेरिका जैसे कुछ बाजारों में बंद है और इसे भारत जैसे देशों तक पहुंचने में भी समय लग सकता है। अगर आप भी जानना चाहते हैं कि ये फीचर कैसे काम करता है, तो चलिए बताते हैं

नए आईफोन और वॉच में कैसे काम करेगा क्रैश डिटेक्शन फीचर?

ऐप्पल ने अपने सभी नए आईफोन और ऐप्पल वॉच मॉडल को नए क्रैश डिटेक्शन सेफ्टी फीचर के साथ पैक किया है। इसका मतलब यह हो सकता है कि घातक टक्कर की स्थिति में यह फीचर जीवन और मृत्यु की स्थिति के बीच अच्छी तरह से खड़ा हो सकता है। ऐप्पल का क्रैश डिटेक्शन फीचर एक गंभीर कार दुर्घटना का पता लगा सकता है और यूजर के बेहोश होने या अपने स्मार्टफोन तक पहुंचने में असमर्थ होने पर खुद ब खुद इमरजेंसी सर्विसेस को डायल कर सकता है।

 

कंपनी का कहना है कि 256G तक के G-फोर्स माप का पता लगाने में सक्षम एक नए डुअल कोर एक्सेलेरोमीटर और एक नई हाई डायनामिक रेंज गायरोस्कोप के साथ, नए iPhones क्रैश का पता लगा सकते हैं। सबसे दिलचस्प बात यह है कि कंपनी का कहना है कि इन क्षमताओं को बैरोमीटर जैसे मौजूदा कंपोनेंट पर बनाया गया है, जो अब केबिन के दबाव में बदलाव का पता लगा सकता है, जबकि स्पीड में बदलाव के लिए अतिरिक्त इनपुट के लिए जीपीएस, और माइक्रोफोन, गंभीर कार दुर्घटनाओं से होने वाली तेज आवाज को पहचान सकता है। है ना कमाल का फीचर?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here