जौनपुर।गया तीर्थ स्थल के लिए पिंडदान करने निकले बृजमोहन

0
70

जौनपुर।गया तीर्थ स्थल के लिए पिंडदान करने निकले बृजमोहन

रिपोर्ट-विक्की कुमार गुप्ता

मुंगरा बादशाहपुर। क्षेत्र के गांव गोरैयाडीह निवासी बृजमोहन पांडे (बुलबुल) अपने पत्नी सरोज पांडेय के साथ पितरों की पूजा और उनकी आत्मा की शांति के लिए पिंडदान और तर्पण करने के लिए गया तीर्थ स्थल के लिए रवाना हुए।

गौरतलब है कि बृजमोहन सपत्नी तथा परिजनों के साथ घर में कर्मकांड व पूजन अर्चन करने के बाद पूरे गांव में गाजे बाजे के साथ भ्रमण करने के बाद वह गया तीर्थ स्थल के लिए रवाना हो गए।

माना जाता हैं कि पितृ पक्ष के 15 दिनों में पितरों का तर्पण और पिंडदान करने से पितृ की मुक्ति होती हैं । विद्वान पंडितों का कहना है कि पितृगण तिथि आने पर वह वायु रूप में घर के दरवाजे पर दस्तक देते हैं ,वह अपने स्वजनों से साथ की इच्छा रखते हैं।

जब उनके पुत्र या कोई सगे संबंधी श्राद्ध कर्म करते हैं ,तो उनकी मुक्ति होती है। पितरों की प्रसन्नता से परिवार दीर्घायु होता है।इस अवसर पर अरविंद पांडे ,मार्कंडेय पांडे, अमरीश पांडे, चंचल, समरजीत ,अमरजीत, लालजीत ,श्याम जीत ,रामेंद्र, सुरेंद्र श्याम मिश्रा, हबलाल पांडे ,अमृतलाल पांडे व धीरेंद्र पांडे आदि लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here