दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान का तीन दिवसीय कथा का समापन

0
123

वाराणसी – दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान के संस्थापक व संचालक सर्व श्री आशुतोष महाराज जी की असीम अनुकंपा से रामनाथ चौधरी शोध संस्थान नरिया बीएचयू में तीन दिवसीय समर्पण कार्यक्रम का 19 दिसम्बर रविवार को गुरु की महिमा का वर्णन करते हुए स्वामी श्री अर्जुनानंद जी ने कहा कि गुरु की महिमा अपरंपार है जो ब्रह्मा विष्णु महेश तथा पारब्रह्म परमात्मा हुआ करते हैं। जिनकी महिमा का गुणगान तुलसीदास जी रामचरितमानस में कहते हैं।

 

देश कोशा परिजन परिवारू
गुरु पद रजही लागी क्षर मारू

 

पूरी सृष्टि के भार को संभालते हुए गुरुदेव अपने भक्तों के भार को भी समाप्त करते हैं जिन की कृपा से भक्तों के जीवन में खुशियों का अंबार लग जाता है जिनके लोक और परलोक को संवारते है जिनके चरणों में सारे तीर्थ समाए हुए हैं बाबा भोलेनाथ मां पार्वती को समझाते हुए कहते हैं

इस कथा में श्री शशि भूषण यादव जी (रामनाथ चौधरी लान प्रबंधक) श्री धनंजय सिंह जी (अधिवक्ता) श्रीमती माधुरी देवी जी
दीप प्रज्वलन कर के कथा का शुभारंभ किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here