नवजात बच्ची को कड़ाके की ठंड में फेंक कर चली गई कलयुगी मां!

0
111

झारखंड-ओड़िशा सीमा क्षेत्र के जोड़ा लौह अयस्क खदान के गोल्डन कैंप में एक डस्टबिन के अन्दर कड़ाके की ठंड में नवजात शिशु की रोने की आवाज सुनकर लोग जमा हो गए। मां ने इस कड़ाके की ठंड में बच्ची को फेंके दिया था। मौके पर जमा लोग कलयुगी मां को लेकर भला-बुरा कहने लगे। तभी टिस्को अस्पताल की नर्स ग्रेस तिग्गा ने बच्ची को डस्टबिन से उठाकर टिस्को अस्पताल पहुंचाया।

हॉस्पिटल के डॉक्टर आफिस रजा ने बताया कि बच्ची को जब टिस्को हॉस्पिटल के इमरजेंसी वार्ड में लाया गया तब वो थरथर कांप रही थी। डॉक्टर गौरव सिंह ने बच्ची का प्राथमिक उपचार के बाद शिशु रोग विषेशज्ञ डॉक्टर सुदेशना दास गुप्ता के हॉस्पिटल कॉल किया गया। उसे एडमिट कर वार्मर में रखा गया तो धीरे-धीरे शिशु का तापमान सामान्य हुआ। बेहतर इलाज के लिए उसे ओड़िशा के क्योझार जिला अस्पताल मे रेफर किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here