Home Tips नाबालिग प्रेमी प्रेमिका में हो गया प्‍यार, शादी के लिए हाई वोल्टेज...

नाबालिग प्रेमी प्रेमिका में हो गया प्‍यार, शादी के लिए हाई वोल्टेज ड्रामा

0
75

जानीए क्या हुआ बिहार के भागलपुर में एक गजब प्रेम कहानी का मामला सामने आया है। दोनों प्रेमी प्रेमिका नाबालिग है। काफी दिनों से दोनों में प्‍यार था। लेकिन प्रेमी शादी को अभी तैयार नहीं थे। अचानक प्रेमिका अपने प्रेमी के घर पहुंच शादी को जिद करने लगी। बिहार के भागलपुर में गजब प्रेम कहानी का मामला सामने आया है। प्रेमी और प्रेमिका दोनों नाबालिग है। एक का उम्र 16 तो दूसरे का 17 है। प्रेमिका शादी करने के लिए अपने प्रेमी के घर पहुंंच गई। प्रेमी के घर के दरबाजे पर बैठकर शादी के लिए हल्‍ला करने लगी। बोल रही थी कि बहुत दिनों से हम दोनों एक दूसरे से प्‍यार करते हैं, अब शादी करवा दो। लड़की के पहुंंचने के बाद वहां काफी संख्‍या में लोग पहुचने लगे 

जानकारी के अनुसार, नाबालिग प्रेमिका प्रेमी के घर का पता ढूंढते-ढूंढते सुल्तानगंज से नाथनगर स्थित रसीदपुर दियारा पहुंच गई। वहां उसने प्रेमी को फोन किया तो उसका मोबाइल स्विच आफ मिला। फिर क्या हुआ लड़की दुखी हो गई और किसी युवक से प्रेमी के घर पता पूछ उसके दरवाजे पर पहुंच गई। वहां उसने पहले प्रेमी से मिलने देने और फिर उससे शादी कराने की बात कही। प्रेमी के स्वजन ने शादी कराने तो तभी  इन्कार कर दिया तो प्रेमिका वहीं धरने पर बैठ गई और रोने-धोने लगी। लगभग डेढ़ घंटे तक प्रेमी के स्वजन और प्रेमिका के बीच हाई वोल्टेज ड्रामा चला। यह सब देख वहां भीड़ जमा हो गई। इस बीच किसी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस दोनों को हिरासत में लेकर थाना ले गई। प्रेमी की उम्र 17 और प्रेमिका की उम्र 16 साल बताई जा रही है।तभी 

 आज का मामला स्थानीय लोगों की मानें तो प्रेमिका के पास जहरीला पदार्थ था। प्रेमी के शादी से इन्कार करने पर वह उसे उसी के दरवाजे पर खाकर अपना दम तोड़ देना चाहती थी। इसकी भनक गांव के किसी लड़के को लग गई। उसने तत्काल लड़की के हाथ से जहरीले पदार्थ को छीनकर फेंक दिया।

 बताया गया कि दोनों नाबालिग हैं। उनके स्वजनों को बुलाया गया है। बातचीत के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

बेटी की ‘गुगली’ पर पिता ‘क्लीन बोल्ड’…थाने में आवेदन देकर मुजफ्फरपुर के अधेड़ ने बताई पूरी बात
मोतिहारी में तू-तू मैं-मैं में चली गई जान, बेटी के निकाह से पूर्व पिता की उठी अर्थी
नैसर्गिक अभिभावक होने के नाते मां को बच्चे का उपनाम तय करने का अधिकार, सुप्रीम कोर्ट ने आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट का आदेश किया 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Coronavirus Update