मुंगरा बादशाहपुर में पानः प्यार, खुशी और मेजबानी की रही है परंपरा- आलोक गुप्ता

0
141

सभासद ने मशहूर टनाटन पान भंडार का फीता काटकर किया उद्घाटन-

विक्की कुमार गुप्ता

मुंगरा बादशाहपुर। खईके पान बनारस वाला.. खुल जाए बंद अकल का ताला” यह गाना ज्यादातर बनारस की सभी पान की दुकान पर बजता रहता है। अगर आप सोचते हैं कि बनारस का पान इस गाने से फेमस हुआ है तो आप गलत हैं।

बनारसी पान मुगलों के समय से खूब प्रचलित है। बनारस में आपको हर गली के नुक्कड़ और चौराहे पर पान की दुकान मिल जाएगी ,लेकिन बनारस के साथ-साथ आपको ले चलते मुंगरा बादशाहपुर की मशहूर पान की दुकान टनाटन पान भंडार जी हां 23 वर्ष पुराना दुकान जिसका रविवार को भव्य उद्घाटन नगर पालिका परिषद के सभासद आलोक कुमार गुप्ता (पिंटू) व उप निरीक्षक दिनेश कुमार ने संयुक्त रुप से मंत्रोच्चारण के साथ फीता काटकर किया।

इनकी दुकानें ऐसी हैं जिनकी चर्चा कई जिलों तक है। मुंगरा बादशाहपुर ही नहीं पूरे जनपद में लोग इस के कायल है। और दूर-दूर से आकर इसका स्वाद चखते हैं। इस दौरान सभासद आलोक गुप्ता ने कहा कि बनारस के बाद मुंगरा बादशाहपुर में पान प्यार, खुशी और मेजबानी की निशानी माना जाता है।

जिस वजह से इसे खास माना जाता है। अपनी आंखों के सामने परफेक्ट पान बनता देख एक अच्छा एहसास होता है। 50 वर्षों से भी पुरानी इनकी एक दुकान जो विजय पान भंडार की नाम से जानी जाती थी। जो आज सिनेमा हॉल गली में टनाटन पान भंडार के नाम से मशहूर है।

यहां कई तरह के पान मिलते हैं। लेकिन छोटी पत्ती वाले पान की डिमांड सबसे ज्यादा है। इस दुकान पर कई जन-प्रतिनिधियों व अधिकारियों तक पान का स्वाद चख चुके हैं। इस दुकान पर आप मीठे, जर्दा और शादी पान का स्वाद ले सकते हैं। इंसान की कीमत ₹7 से लेकर ₹25 तक है। एक स्पेशल गिल्लौरी पान भी है जो ₹25 से लेकर ₹500 में मिलता है।

उद्घाटन के पूर्व में दुकान के प्रोपराइटर राकेश मोदनवाल नेम आए हुए अतिथियों का माल्यार्पण कर भव्य स्वागत किया ।इस अवसर पर विनय सिंह पिंटू, बृजेश मिश्रा लल्लू, संजीव गुप्ता, कल्लू मौर्य, बृजेश शर्मा पप्पू, रोहन पांडे, अली अहमद, विक्की मोदनवाल, अभिषेक गुप्ता, रवि गुप्ता, गौरव जायसवाल, हिमांशु गुप्ता, वीरेंद्र कुमार वशुभम गुप्ता सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here