70 हजार की लूट, पुलिस ने 2 बदमाशों को किया गिरफ्तार प्रेमिका का शौक पूरा करने के लिए की थी

0
39

सुल्तानपुर: में बीते दिनों बैंक फ्रेंचाइजी संचालक को गोली मारकर 70 हजार की लूट करने के मामले में पुलिस ने आज खुलासा कर दिया. पुलिस ने इस घटना में शामिल दो बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया और साथ ही लूट के बचे हुए रुपये, चोरी की बाइक सहित अवैध तमंचा बरामद बरामद कर लिया है.

दरअसल मोतिगरपुर थाना क्षेत्र के बिनवन गांव का रहने वाला जितेंद्र पांडेय दोस्तपुर के गोसैसिंहपुर में बैंक फ्रेंचाइजी चलाता था. बीते 24 अगस्त को भी वे सुबह फ्रेंचाइजी खोलकर बैठा था कि तभी दो युवक पैसा निकालने के बहाने पहुंचे और असलहे की नोंक पर 70 हजार लूट लिए. जितेंद्र ने विरोध किया तो बदमाशों ने उसे गोली मार दी और हाथ में गोली लगने के चलते जितेंद्र घायल हो गया. इस घटना की जनकारी लगते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था.

प्रेमिका का शौक पूरा करने के लिए की लूट

इस घटना के बाद बदमाशों की तलाश में क्राइम ब्रांच सहित स्थानीय पुलिस लगाई गई थी. सर्विलांस और मुखबिर के जरिए पुलिस को सूचना लगी घटना में शामिल बदमाश पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की सर्विस लेन से आ रहे हैं और अंबेडकरनगर जाने को तैयारी में है. जिस पर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए दोस्तपुर थाना क्षेत्र के अलहदादपुर अंडर पास के पास से मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए बदमाशों की पहचान अर्जुन पांडेय और हर्षित मिश्रा के रूप में हुई जो दोस्तपुर थाना क्षेत्र के ही रहने वाले हैं. पुलिस ने लुटेरों के पास से लूट के 57300 रुपये, दो अवैध तमंचा, दो कारतूस खोखा, लूट में प्रयुक्त चोरी की बाइक और दो मोबाइल फोन बरामद कर लिया. पुलिस की मानें तो पकड़े गए बदमाश नोएडा में प्राइवेट जॉब करते हैं और अपनी प्रेमिका को गिफ्ट देने के लिये इन्होंने पड़ोस की बैंक फ्रेंचाइजी पर लूट की वारदात को अंजाम दिया था.

लूट का पैसा किया बरामद

पुलिस अधीक्षक सुल्तानपुर सोमेन बर्मा ने बताया कि दोस्तपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत कुछ दिनों पहले एक फ्रेंचाइजी कर्मी को उनकी दुकान में दो व्यक्तियों द्वारा लूटा गया और उसके हाथ पर गोली मार दी गई. टीम लगातार इस पर लगी हुई थी और दो लोगों पकड़े गए हैं. इन आरोपियों का नाम अर्जुन पांडे हैं और दूसरा हर्ष मिश्रा हैं. इनके पास से लूट का पैसा बरामद हुआ है जिस बाइक से लूट किए थे वो भी चोरी की बाइक है उसे भी रिकवर किया गया है.

इसके साथ-साथ ये भी जानकारी में आया कि ये लोग वहीं कस्बे के आसपास के रहने वाले थे. उनकी प्रेमिका थी प्रेमिका के लिए सामान लेना था तो इन्होंने फ्रेंचाइजी ओनर को लूट की योजना बनाई है. अभी न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहे हैं आवश्यक प्रक्रिया प्रचलित है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here