छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा विकास के छत्तीसगढ़ मॉडल से गुजरात मॉडल काफी पीछे छूट गया है ||

0
150

रिपोर्ट – रोहित सेठ

वाराणसी :- सरदार सेना द्वारा आयोजित जनहित संकल्प महारैली में रविवार को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल महारैली में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए भाजपा पर जमकर बरसे। वहीं सरदार सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी उत्तर प्रदेश व केन्द्र सरकार की कमियां गिनाई। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि विकास के छत्तीसगढ़ मॉडल से गुजरात मॉडल काफी पीछे छूट गया है। इतना ही नहीं उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए यह भी कहा कि ह्यगुजरात मॉडलह्ण महज एक छलावा है। छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल रविवार को वाराणसी के लोहता कोरोता मैदान में सरदार सेना की जनहित संकल्प महारैली को संबोधित कर रहे थे।

वहीं सरदार सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा आर.एस. पटेल ने कहा कि आजादी के 74 साल बीत जाने के बाद भी हमारे एससी, एसटी, ओबीसी एवं अल्पसंख्यक समाज को वास्तविक अधिकार/भागीदारी प्राप्त नहीं हो पायी, कुछेक को छोड़ दिया जाय तो हमारे समाज की हालात बद से बदतर होती जा रही है। वर्तमान योगी व मोदी सरकार ने तो हमारे अधिकारों पर डाका डाल दिया है। ओबीसी आरक्षण लगभग समाप्ति की ओर है। देश के सभी संवैधानिक पदों पर (चपरासी से लेकर जज तक) अधिकतर शोषकों के कब्जे में है। संविधान ठीक से लागू भी नहीं हो पाया कि यह शोषक वर्ग अब आरक्षण, लोकतंत्र और संविधान समाप्त करना चाहते हैं, इसलिए भविष्य को गुलामी से बचाने के लिए एवं देश के सभी क्षेत्रों में आबादी के अनुपात में भागीदारी सुनिश्चित करने हेतु जनहित संकल्प महारैली का आयोजन किया गया है।

भाजपा पर निशाना साधते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ मॉडल की चर्चा आज पूरे देश-दुनिया में है। हमने विकास के छत्तीसगढ़ मॉडल से गुजरात मॉडल को काफी पीछे छोड़ दिया है। कहा कि भाजपा के ह्यगुजरात मॉडलह्ण का झूठ जनता के सामने आ गया है।छत्तीसगढ़ के सीएम ने कहा कि भाजपा के पास उत्तर प्रदेश के लोगों के विकास के लिए कोई रोडमैप नहीं है। यहां के किसान, युवा, व्यापारी, प्रतियोगी परीक्षा देने वाले बच्चे, माताएं-बहनें हर कोई भाजपा सरकार से त्रस्त और परेशान हैं। किसान आत्महत्या को मजबूर हैं। आए दिन दलितों के साथ अपराध और पुलिस थानों में हत्या एवं दुष्कर्म जैसी जघन्य घटनाएं हो रही हैं। प्रतियोगी परिक्षाओं का पेपर लीक हो जाता है। प्रदेश में जितनी भी भर्तियां निकलीं, वे सब भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है। कहा कि यूपी में विकास के नाम पर दुर्व्यवस्था है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आप आकर छत्तीसगढ़ में देखिए, वहां एमएसपी की दर देश के बाकी राज्यों की तुलना में ज्यादा है। इसका फायदा वहां के किसान भाइयों को मिल रहा है। 2500 रुपए प्रति क्विंटल धान, 2600 रुपए प्रति  क्विंटल गेहूं और 400 रुपए प्रति क्विंटल गन्ना उपज का दाम मिल रहा है। छत्तीसगढ़ में आवारा पशुओं की कोई समस्या नहीं है।

हमारी सरकार पशुपालकों से दो रुपए प्रति किलो गोबर खरीद कर उन्हें स्वावलंबी बना रही है। मैं यही सब सुविधाएं और विकास उत्तर प्रदेश में भी देखना चाहता हूं। इसलिए विधानसभा चुनाव में आप सभी दलित, मजदूर, किसान एकजुट हो कर कांग्रेस को वोट दें। जुमलेबाजों को परास्त कर धर्म और जाति की राजनीति करने वालों को सत्ता से दूर करें।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने चार्टर्ड विमान से वाराणसी एयरपोर्ट पर दोपहर 1:30 बजे पहुंचे। कांग्रेस के नेताओं और सरदार सेना के पदाधिकारियों ने बुके और अंगवस्त्र देकर स्वागत किया। इस दौरान पूर्व सांसद राजेश मिश्रा, पूर्व विधायक अजय राय, राघवेंद्र चौबे, सरदार सेना के प्रदेश अध्यक्ष छोटेलाल मौर्या, अरविंद सिंह पटेल पूर्व प्रत्याशी स्नातक एमएलसी, अमर बहादुर सिंह पूर्व आईएफएस इत्यादि लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here