जानिए दोस्ती की 4 हेल्दी वजहों के बारे मेंदुनिया सिमट कर,दोस्त आपके दिमाग से उलझनों को निकालकर सकारात्मक सोच बनाने को प्रेरित करता है

0
41

दोस्ती है इम्युनिटी बूस्टर, जानिए दोस्ती की 4 हेल्दी वजहों के बारे मेंदुनिया सिमट कर आपके लैपटॉप, मोबाइल और आईपैड पर आ गई है। अब आप घंटों वर्चुअल दुनिया के निवासी बनकर समय काट सकते हैं। लोगों के जीवन में अब वर्चुअल दुनिया की दोस्ती, लाइक्स और मनोरंजन ने इस तरह कब्जा कर लिया है कि वे चाहकर भी इससे बाहर नहीं आ पाते। यह जानते हुए भी कि यह दुनिया असली नहीं है। लेकिन क्या आप जानते हैं

कि असली दुनिया में अपने जैसे इंसानों से दोस्ती करना आपकी शारीरिक और मानसिक सेहत के लिहाज से भी बहुत अच्छा होता है? जी हां, यह बात वैज्ञानिक रूप से भी सिद्ध हो चुकी है कि असली जिंदगी में आपका दोस्तों के साथ बात करना, समस्याएं शेयर करना और गप्पें मारना आपके स्वास्थ्य के लिए भी बढ़िया होता है।

 

फ्रेंडशिप डे करीब है और यह एक अच्छा अवसर है फिर से अपने दोस्तों के साथ अपनी बॉन्डिंग को मजबूत बनाने का। कोरोना काल ने हम सभी के सामने चुनौतियों का अम्बार लगा दिया था और ये अभी भी खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में और भी जरूरी हो जाता है कि अपने सच्चे दोस्तों और प्रियजनों के साथ जुड़े रहें। चाहे कोरोना काल के प्रोटोकॉल्स के साथ ही सही लेकिन ये दोस्ती रियल लाइफ की हो
इम्युनिटी बढ़ाने वाला दोस्त

शायद आपको लगे कि पौष्टिक भोजन, एक्सरसाइज और सप्लीमेंट से इतर यह सिर्फ एक भावनात्मक बात है, लेकिन असल में मित्रों का इम्युनिटी बूस्टर की तरह काम करना कई चीजों से जुड़ा होता है। इसका भावनात्मक पक्ष तो है ही, यह आपको शारीरिक रूप से भी मजबूत बनाने में भी योगदान देता है। चाहे फिर दूरी की वजह से आप कभी-कभार ही क्यों न मिल पाते हों, दोस्तों के साथ होने का एहसास भी बहुत हिम्मत बढ़ाता है।

दोस्त आपके दिमाग से उलझनों को निकालकर सकारात्मक सोच बनाने को प्रेरित करता है, आपको बीमारी या तकलीफ होने पर लगातार लड़ने के लिए मोटिवेट करता है और कई बार आपका साथी बन आपके साथ एक्सरसाइज भी करता है। इसलिए दोस्त एक इम्युनिटी बूस्टर होता है, जिसका साथ होना आपकी सेहत के लिए भी अच्छा होता है। विज्ञान भी इस बात को मानता है कि अच्छी मित्रता या सपोर्ट ग्रुप्स सेहत के लिए बूस्टर का काम करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here