जानिए इस साल जल्द मिल सकता है ब्याज, जानिये कब तक आएगी आपके खाते में रकम

0
27

पीएफ पर वित्त वर्ष 2022 के लिए 8.1 प्रतिशत की ब्याज दर का ऐलान किया गया है जो कि 43 साल का निचला स्तर है

सरकारी सूत्रों के मुताबिक ऐसे में वित्त मंत्रालय ट्रस्ट के द्वारा सुझाई गई ब्याज दर को बिना समीक्षा मंजूरी दे सकता है. जिससे आगे की प्रक्रिया भी तेज हो सकेगी

6 करोड़ कर्मचारियों को होगा फायदा

इस  कम से अधिक फायदा ईपीएफओ के साथ पंजीकृत 6 कर्मचारियों को मिलेगा. सेंट्रल बोर्ड ऑफ ईपीएफओ ने 12 मार्च को वित्त वर्ष 2022 के लिए पीएफ पर 8.1 प्रतिशत का ब्याज देने का ऐलान किया था

पिछले वित्त वर्ष में पीएफ में जमा रकम पर ब्याज कर्मचारियों के खातों में दिसंबर में जमा हुआ था. उस अवधि में 8.5 प्रतिशत का ब्याज दिया गया था.

इस साल का फेस्टिव सीजन नौकरीपेशा लोगों के लिए और ज्यादा खास होने जा रहा है. दरअसल 2022 के दौरान ईपीएफओ  की तरफ से ब्याज  की अदायगी बाकी सालों के मुकाबले पहले यानि अगले फेस्टिव सीजन के दौरान होने की उम्मीद है

मनीकंट्रोल की एक्सक्लूसिव खबर के अनुसार बीते सालों की तरह आपको ब्याज की रकम पाने के लिए साल के अंत तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा, सूत्रों के हवाले से दी गई रिपोर्ट के हवाले से कहा गया है

कि इस साल कर्मचारियों   के खातों में दीवाली से पहले रकम जमा कराई जा सकती है. इस साल फेस्टिव सीजन अक्टूबर में पड़ रहा है यानि पैसा अक्टूबर या उससे पहले खातों में जमा किया जा सकता है.

क्यों जल्दी मिल सकता है पैसा

रिपोर्ट में जल्द पैसा मिलने के लिए दो वजहें गिनाई गई हैं, पहली वजह के अनुसार पीएफ की ब्याज दर फिलहाल कई सालों के निचले स्तर पर है ऐसे में संभावना कम है कि वित्त मंत्रालय इसमें कोई बदलाव करे. पीएफ पर वित्त   के लिए 8.1 प्रतिशत की ब्याज दर का ऐलान  कर बताया गया  है जो कि 43 साल का निचला स्तर है

सरकारी सूत्रों के मुताबिक ऐसे में वित्त मंत्रालय ट्रस्ट के द्वारा दी गई ब्याज दर को बिना समीक्षा मंजूरी  होता है. वहीं कम दरों पर ब्याज के जल्द भुगतान से(i p f o  ) की आर्थिक सेहत में सुधार  होता है  

दरअसल नियमों के अनुसार जब तक वित्त मंत्रालय के द्वारा नई दरों को मंजूरी नहीं मिलती है तब तक पीएफ सेटलमेंट पिछली दरों पर किये जाते हैं जो कि फिलहाल 8.5 प्रतिशत हैं. मंजूरी जल्दी मिलने पर एक तरफ ब्याज का भुगतान जल्दी होगा वहीं पीएफ सेटलमेंट कर्मचारियों के द्वारा किसी भी वजह से पीएफ से रकम निकालने पर सेटलमेंट 8.4  प्रतिशत की जगह 8.0  प्रतिशत से होगा, इससे आर्थिक बोझ कम होगा. सरकारी  सूत्र  की मानें को इस साल दीवाली या दशहरे  तैहार  के दौरान खाता धारकों को ब्याज का पैसा मिल  जाता है 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here