जो देश के कानून के खिलाफ वो इस्लामिक कानून के भी खिलाफ, उदयपुर के दोषियों को मिले सख्त सजा : मुफ़्ती-ए-बनारस

0
46

 

वाराणसी। उदयपुर में जो घटना हुई वो बेहद शर्मनाक है। उसकी जितनी भी निंन्दा की जाए वो कम है। इस घटना को किसी भी सूरत से सही नहीं करार दिया जा सकता है क्योंकि इस तरह की हरकत देश के कानू के खिलाफ है और जो देश के कानून के खिलाफ वो इस्लाम के कानून के खिलाफ है। उक्त बातें मुफ़्ती-ए-बनारस अब्दुल बातिन नोमानी ने उदयपुर में हुई घटना को लेकर अपना विरोध जताते हुए अपना एक वक्तव्य जारी करते हुए कहीं।

 

मुफ़्ती-ए-बनारस अब्दुल बातिन नोमानी ने कहा कि राजस्थान के उयदयपुर में पैगम्बर-ए-इस्लाम हज़रत मोहम्मद (स.अ.) की गुस्ताखी करने वाले एक मशहूर महिला की हिमायत करने वाले शख्स की जिन दो युवाओं ने ह्त्या की वह बेहद ही निंदनीय है। हम इस घटना की घोर निंन्दा करते हैं।

 

 

उन्होंने कहा कि यह घटना मुल्क और इस्लामिक कानून के एतबार से ठीक नहीं है। वहीं उन्होंने आम जनता और बनारस के शहरवासियों से अपील की है कि अमन व शान्ति बनाये रखें। अपने जज़्बात को काबू में रखे और जज़्बात में खुद को बेकाबू करने होश खोने का काम कत्तई न करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here