जौनपुर।रामपुर थानाध्यक्ष के दबाव के चलते अपहृत बीडीसी पत्नी बच्चों संग लौटा घर, परिजनों में खुशी

0
546

जौनपुर।रामपुर थानाध्यक्ष के दबाव के चलते अपहृत बीडीसी पत्नी बच्चों संग लौटा घर, परिजनों में खुशी

रामपुर थाना के कोटिगांव निवासी दलित बीडीसी अपहरण के मामले में थानाध्यक्ष द्वारा आरोपियों के ऊपर दबाव बनाए जाने के 12 घंटे के अंदर ही आरोपियों ने अगवा किए गए बीडीसी को नाटकीय ढंग से बरामद कर लिया है।

बीडीसी को थाने पर लाने के बाद पुलिस ने ससम्मान घर पहुंचा दिया है।

बीडीसी की माता ने थानाध्यक्ष को बधाई दिया है।
कोटिगांव निवासी दलित महिला सुशीला देवी ने मंगलवार को रामपुर थाने पर पहुंचकर थानाध्यक्ष दिव्य प्रकाश सिंह से तहरीर देकर आरोप लगाई की दो लोग हमारे बेटे प्रदीप गौतम को अगवा कर 20 दिन से अपने पास रखा है।

थानाध्यक्ष दिव्य प्रकाश सिंह को जैसे ही घटना का पता चला तुरंत ही टीम बनाकर छापेमारी करना शुरू कर दिया।
रात भर छापेमारी को देखते हुए आरोपियों ने नाटकीय ढंग से अगवा किए गए बीडीसी को शिकायत के 12 घंटे के अंदर रामपुर थाने के निकट स्थित बाजार में छोड़कर फरार हो गए।

मुखबिर द्वारा सूचना जैसे ही थानाध्यक्ष दिव्य प्रकाश सिंह को मिली कि अगवा किया गया बीडीसी रामपुर बाजार में टहल रहा है तुरंत पुलिस फोर्स के साथ एसओ ने पहुंचकर बीडीसी एवं उनके पत्नी और बच्चों को थाने पर ले आए और घटना की जानकारी करते हुए बीडीसी प्रदीप गौतम के आने की सूचना क्षेत्राधिकारी मड़ियाहूं अशोक कुमार सिंह को दिया।

मौके पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी ने अपहृत बीडीसी प्रदीप गौतम से पूछताछ करने के बाद पुलिस के माध्यम से ससम्मान उसे घर तक पहुंचाया गया।

अपहृत बीडीसी प्रदीप गौतम ने बताया कि मुझे अगवा नही किया गया था मैं खुद घूमने गया था

बीडीसी प्रदीप गौतम के घर पहुंचने पर उसकी माता सुशीला देवी ने थानाध्यक्ष दिव्य प्रकाश सिंह एवं क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार सिंह को बधाई दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here