जौनपुर में डिग्री में उलझे सपा विधायक लकी यादव: 2007 के नामांकन में कानपुर यूनिवर्सिटी से दिखाया ग्रेजुएशन, इस बार जौनपुर यूनिवर्सिटी से बीए पास दिखाया

0
227

जौनपुर में डिग्री में उलझे सपा विधायक लकी यादव:

2007 के नामांकन में कानपुर यूनिवर्सिटी से दिखाया ग्रेजुएशन, इस बार जौनपुर यूनिवर्सिटी से बीए पास दिखाया

जौनपुर के सपा विधायक और मल्हनी विधानसभा से प्रत्याशी लकी यादव डिग्री में उलझ गए हैं। दरअसल, 2007 में विधानसभा चुनाव के नामांकन में उन्होंने में कानपुर यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन कंप्लीट करना दिखाया था, जबकि 2022 में नामांकन में उन्होंने खुद को जौनपुर से यूनिवर्सिटी से बीए पास दिखाया है।

ऐसे में उनका नामांकन कैंसिल हो सकता है। वहीं, मामले को लेकर लकी यादव का कहना कि उस समय उनका ग्रेजुएशन पूरा नहीं हुआ था। उनके पिता ने नामांकन भरवाया था। इसके बारे में उन्हें ज्यादा जानकारी नहीं है।

सपा विधायक लकी यादव इससे पहले बरसठी विधानसभा से ही चुनाव लड़े थे। 2007 में हुए उपचुनाव में उन्होंने नामांकन पत्र दाखिल किया था। इसमें उन्होंने 2004 में कानपुर विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट होने के बाद दिखाई थी। 2020 के उपचुनाव में उन्होंने फिर सपा से चुनाव लड़ा।

मल्हनी विधानसभा में उन्होंने जीत दर्ज की थी। इस दौरान दाखिल किए गए नामांकन पत्र में उन्होंने 2018 में पूर्वांचल विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट होना दिखाया। उन्होंने जानकारी दी कि श्रीराम कॉलेज निगोह से बीए पास किया है।

सपा प्रत्याशी लकी यादव ने कहा कि मैं ग्रेजुएशन करके राजनीति में आया हूं। जब उनसे कानपुर यूनिवर्सिटी और जानपुर यूनिवर्सिटी से अलग-अलग जानकारी देने की बात पूछी तो उन्होंने बताया कि ऐसा कुछ नहीं है। मैंने ग्रेजुएशन पूर्वांचल विश्वविद्यालय से किया है। उस समय पिता पिताजी ने नामांकन भरवाना था, उसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। 2020 में जो दिखाया था, वहीं 2022 में दिखा रहा हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here