मामी के प्रेम के वजह से भांजे ने मामा को उतारा मौत के घाट……

0
549

बहराइच । बीती रात रिश्ते को शर्मसार करने वाली जघन्य घटना घटी। जिसमें भांजे ने मामी के प्रेम में मामा की चाकू से गोदकर हत्या कर दी।

पहले तो भांजे ने गला काटा फिर शरीर पर ताबड़तोड़ वार किए। आरोपी मृतक के पुत्र की भी हत्या करने के में फिराक में था, लेकिन किसी तरह उसका पुत्र भागने में सफल रहा उसने शोर मचा कर गांव वालों को इकट्ठा किया और ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को हिरासत में लिया और हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार को बरामद किया। ग्रामीणों ने बताया कि एक वर्ष पूर्व भांजा मामी को लेकर फरार हो गया था। इसमें काफी पंचायत के बाद पुनः महिला को उसके पति को सौंपा गया, लेकिन फिर भी दोनों के बीच संबंध बने रहे।
थाना रिसिया अंतर्गत बेडियन पुरवा निवासी संतोष कुमार पुत्र स्व. रामनरेश का विवाह 15 वर्ष पूर्व विमला देवी से हुआ था मृतक के चार पुत्र हरजीत (12), संदीप (6), प्रदीप (3), सूर्या (1) और पुत्री पुनीता देवी (9) है।

कुछ समय पूर्व मृतक की पत्नी विमला देवी का संबंध गांव में ही रहने वाले भांजे अमरजीत से हो गया। जिसको लेकर एक वर्ष पूर्व भांजा मामी को लेकर भाग गया, लेकिन पति ने मामले की सूचना पुलिस को दी जिस पर आरोपी को पकड़कर पुलिस ने चालान किया जबकि पत्नी को पति को सौंप दिया। इसके बाद भी दोनों के बीच संबंध बने रहे जिसका नतीजा बीती रात युवक ने मामी के साथ मिलकर मामा की चाकू से गोदकर हत्या कर दी।
आरोपी भांजा मृतक के पुत्र को भी मारने की फिराक में था, लेकिन भांजे ने घर से बाहर भाग कर दरवाजा बंद कर दिया और शोर मचा दिया। इससे ग्रामीण इकट्ठा हो गए रात के अंधेरे का फायदा उठाकर आरोपी फरार होने में सफल रहा ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने रात्रि में दबिश देकर आरोपी को हिरासत में ले लिया और हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार को भी बरामद कर लिया।

पहले शराब पिलाया और पत्नी ने फोनकर प्रेमी को बुलाकर दिया घटना को अंजाम : रिसिया-मृतक के पुत्र हरजीत ने बताया कि सबसे पहले रात में उसके पिता संतोष को शराब पिलाया गया और जब वह सो गया तो उसकी मां ने आरोपी भांजे अमरजीत को फोन कर कर बुलाया और पत्नी ने पति के दोनों पैर को जकड़ लिया और आरोपी ने चाकू से ताबड़तोड़ वार करने शुरू कर दिए जब तक की संतोष की मौके पर ही मौत नहीं हो गई इसके बाद आरोपी उसके पुत्र को भी हत्या करने की फिराक में थे, लेकिन उसने भागकर घर के बाहर दरवाजे बंद कर दिया और शोर मचा दिया शोर सुनकर ग्रामीण उसके घर की ओर दौड़े तब उन्हें मामले की जानकारी हुई।

मृतक के पास थी 52 बीघे जमीन : रिसिया-मृतक संतोष के पास कृषि योग्य 52 बीघे जमीन थी जिसके माध्यम से वह अपने परिवार का भरण पोषण कर रहा था, लेकिन पत्नी के अवैध संबंध से काफी परेशान था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here