लखनऊ।प्रेम प्रसंग में हुई थी महिला सिपाही की हत्या, तहसीलदार गिरफ्तार

0
246

प्रेम प्रसंग में हुई थी महिला सिपाही की हत्या, तहसीलदार गिरफ्तार…

लखनऊ (हिन्द24टीवी) पीजीआई थाना क्षेत्र में पांच फिट गहरे पानी भरे नाले में मिले महिला सिपाही रुचि सिंह चौहान के शव के मामले में प्रतापगढ़ की रानीगंज तहसील के तहसीलदार को गिरफ्तार किया गया है। बताया गया है कि महिला सिपाही की हत्या प्रेम प्रसंग के चलते हुई। कांस्टेबल रुचि सिंह चौहान बाराबंकी के असंद्रा थाने से स्थानांतरित होकर पुलिस मुख्यालय में तैनात थी।

महिला सिपाही की हत्या के मामले में सपा अधयक्ष/पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि लापता महिला सिपाही की हत्या कर दी जाती है, ये हाल है यूपी कानून-व्यवस्था का। बताते चलें कि सिपाही रुचि सिंह संदिग्ध हालात में 7 दिन पूर्व लापता हो गई थी। इसके बाद सुशांत गोल्फ सिटी थाने में पुलिस मुख्यालय पर तैनात अनुभाग अधिकारी ने उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी। गुरुवार को उसका शव लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र में नाले से मिला था।

एडीसीपी (पूर्वी) एसएम कासिम आब्दी के अनुसार बिजनौर जिले की रहने वाली महिला सिपाही रुचि सिंह वर्तमान में पुलिस मुख्यालय में तैनात थी और अर्जुनगंज में किराए के मकान में रह रही थी। 13 फरवरी को रुचि की ड्यूटी थी लेकिन वह काम पर नहीं पहुंची। सिपाही के गैरहाजिर होने पर उसके बारे में जानकारी जुटाने का प्रयास किया गया था। सिपाही रुचि सिंह की हत्या के आरोप में प्रतापगढ़ जिले के रानीगंज में तैनात तहसीलदार को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी तहसीलदार और महिला सिपाही के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था।

लखनऊ पुलिस ने आरोपी तहसीलदार और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है,पुलिस टीम दोनों को लेकर लखनऊ के लिए रवाना हो गई है। आरोपी तहसीलदार ने शुरुआती पूछताछ में बताया कि उसके और महिला सिपाही रुचि सिंह के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था, रुचि सिंह शादी के लिए उस पर लगातार दवाब डाल रही थी। इससे परेशान होकर उसने सिपाही की हत्या करने की योजना बना ली। बाद में मौका मिलने पर उसने सिपाही की हत्या कर दी और शव नाले में फेंक दिया।

रविवार की भोर में लखनऊ पुलिस ने प्रतापगढ़ के ट्रांजिट हास्पिटल में दस्तक दी और रानीगंज के तहसीलदार पद्मेश श्रीवास्‍तव को अपने साथ ले गई l पुलिस के आने और उनको ले जाने की भनक आसपास के अन्य अधिकारियों को नहीं हो सकी l

पद्मेश श्रीवास्तव एक साल पहले रानीगंज के तहसीलदार के पद पर तैनात हुए थे l इसके पहले वह इसी पद पर तहसील लालगंज में कार्यरत थे l दोनों जगह तैनाती के दौरान उनकी प्रेम प्रसंग की बात किसी को पता नहीं चली l

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here