50 महापुरुषों के नाम चयनित करेंगेभाजपा ने चुनाव के संकल्प पत्र में वादा किया जो अब पूरा होगा।

0
62

जिनकी जीवनगाथा कक्षा नौ से 12 तक की किताब में शामिल होगी। 27 हजार से अधिक स्कूलों में पढ़ाएंगे।

यूपी बोर्ड के 27 हजार से अधिक राजकीय, सहायता प्राप्त और वित्तविहीन स्कूलों में पढ़ने वाले एक करोड़ से अधिक छात्र-छात्राओं को गौरवशाली इतिहास से परिचित कराया जाएगा। भाजपा ने 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए जारी लोक कल्याण संकल्प पत्र में सभी महापुरुषों और स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की जीवनगाथा को शैक्षिक पाठ्यक्रम में शामिल करने का वादा किया है।

शासन के आदेश पर माध्यमिक शिक्षा विभाग के अफसर 50 महापुरुषों के नाम पाठ्यक्रम में शामिल करने की तैयारियों में जुटे हैं। माध्यमिक शिक्षा निदेशक डॉ. सरिता तिवारी की अध्यक्षता में गठित समिति को नाम चयन की जिम्मेदारी दी गई है। अगले सत्र से इन महापुरुषों के नाम पाठ्यक्रम में शामिल होने की उम्मीद है।

परिषदीय स्कूलों की दीवारें दे रही नारी शक्ति की गवाही

परिषदीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूलों की दीवारें नारी शक्ति की गवाही दे रही हैं। बीएसए प्रवीण कुमार तिवारी ने सभी खंड शिक्षाधिकारियों से स्कूल की एक दीवार को विशिष्ट नारियों को समर्पित करने को कहा था। दीवार पर पेंट कराकर या फ्लैक्स लगवाकर नारियों के बड़े व स्पष्ट चित्र लगाने एवं उनके विषय में लेख लिखवाए जा रहे हैं। रानी लक्ष्मीबाई, चांद बीबी, सावित्रीबाई, सरोजनी नायडू, सुचेता कृपलानी, सुभद्रा कुमारी चौहान, मदर टेरेसा, लता मंगेशकर, पीटी उषा, अमृता प्रीतम, महादेवी वर्मा, साइना नेहवाल, कल्पना चावला, बेगम अख्तर, मैरी कॉम समेत 19 महिलाओं का नाम शामिल किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here