Jaunpur:तहसील का नही लगाने होंगे चक्कर,”न्याय आपके द्वार”

0
64

मडियाहूं तहसील के गांवों में छोटे-मोटे पारिवारिक विवाद एवं जमीनी विवाद को निपटारे के लिए जिलाधिकारी के निर्देश पर “न्याय चला घर के द्वार” के तहत आगामी 6 मई से राजस्व एवं पुलिस टीम के द्वारा विवादों के निस्तारण का कार्य युद्ध स्तर पर शुरू हो जाएगा।

गुरुवार को मड़ियाहूं उप जिलाधिकारी अर्चना ओझा ने प्रेस प्रतिनिधियों से बातचीत करती हुई बताई की पुलिस एवं रेवेन्यू टीम द्वारा “न्याय चला घर के द्वार” के तहत तहसील में आने वाले वादकारियों के सहूलियतों को देखते हुए जनता दर्शन, तहसील समाधान दिवस, थाना समाधान दिवस एवं वरासत संबंधी विवादों को घर-घर जाकर निपटाने का काम रोस्टर के तहत किया जाएगा।
श्रीमती ओझा ने बताया कि 6 मई से 20 मई तक इस कार्य योजना को अमलीजामा पहनाया जाएगा। इन 10 दिनों के अंदर 60 गांवों का मामला निस्तारण किया जाएगा। जो भी गांव शेष बचेगा वह रविवार के दिन भी जरूरत पड़ने पर टीम निपटाने का कार्य करेगी।

गांव में विवादों का निपटारा करने के लिए राजस्व एवं रेवन्यू की छः टीमें गठित किया गया है, भविष्य में यह टीमें बढ़ाई जाएगी। मड़ियाहूं तहसील क्षेत्र में कुल 683 गांव स्थित है। समूचे गांव में विवादों का निपटारा 200 दिनों में
करने की कार्य योजना एसडीएम अर्चना ओझा ने बनाई है।
पहले राउंड में 6 मई को पुरेसवां, औरईला, रानीपट्टी, गुतवन, गंधौना, शेषपुर गांव के विवादों को निपटाया जाएगा।
इस मौके पर तहसीलदार अमित कुमार त्रिपाठी, नायब तहसीलदार संतोष कुमार सिंह, राजस्व कानून गो, लेखपाल एवं पुलिस प्रशासन मौजूद रहेंगे।
एसडीएम ने सभी ग्रामवासियों से अपील किया है कि जिन गांवों में ज्यादा विवाद हो उसे लिखित रूप में बता सकते हैं यहां हमारी टीम पहले पहुंचेगी।

अशोक कुमार दुबे की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here