कर्तव्य का पालन जरूरी करे देश के विकास के लिए पढ़े पुरी रिपोट

0
32

प्रयागराज। (हिन्दुस्तानी एकेडेमी )के मंगलवार को आजादी के अमृत महोत्सव के तहत सुभद्रा कुमारी चौहान को उनकी जयंती पर स्मरण किया गया। राजकीय पाण्डुलिपि पुस्तकालय, संस्कृति विभाग और जिला प्रशासन की ओर से सुभद्रा कुमारी चौहान के काव्य में राष्ट्रीय चेतना विषय पर संगोष्ठी आयोजित की गई।

मुख्य अतिथि विधायक इंजी.

यह हर्षवर्धन वाजपेयी ने कहा कि कर्तव्यों के निष्ठापूर्ण पालन से देश विश्व पटल पर एक आदर्श देश के रूप में स्थापित होगा। बतौर वक्ता आर्य कन्या डिग्री कॉलेज में असि. प्रोफेसर डॉ. मुदिता तिवारी ने कहा कि सुभद्रा कुमारी चौहान ने कविताओं में बलिदान की वेदना को व्यक्त किया है।

 जानिए राष्ट्रीय चेतना की भावभूमि है। अध्यक्षता करते हुए डॉ. कल्पना वर्मा ने कहा कि सुभद्रा की कविताओं में राष्ट्रीय चेतना समाहित है। डॉ. अलका प्रकाश ने कहा कि सुभद्रा ने अपनी ओजपू्र्ण कविताओं के लिए सदैव याद की जाएंगीं। 

उन्होंने महादेवी वर्मा की तरह सुभद्रा कुमारी चौहान की स्मृतियों को सहेजने की मांग की। डॉ. सरिता शुक्ला ने विचार व्यक्त किए। कविता संग्रह आजादी के तराने का विमोचन किया गया। संचालन ज्योतिर्मयी, आभार ज्ञापन सुश्री क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अपराजिता सिंह ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here