जानिए आंखों-त्वचा में ऐसे लक्षणों का मतलब ठीक से काम नहीं कर रही किडनी, कहीं आपको भी तो नहीं है ऐसी दिक्कत

0
61
 जानिए किडनी, हमारे शरीर के लिए सबसे आवश्यक और महत्वपूर्ण अंगों में से एक है। शरीर से अपशिष्ट और अतिरिक्त तरल पदार्थ को बाहर निकालने और शरीर की कोशिकाओं द्वारा उत्पादित एसिड को कम करने में इस अंग की विशेष भूमिका होती है।
 इसके अलावा हमारे रक्त में पानी और खनिजों जैसे सोडियम, कैल्शियम, फास्फोरस और पोटेशियम को संतुलित बनाए रखने में भी किडनी मदद करती है। किडनी में होने वाली किसी भी तरह की समस्या इसके सामान्य कार्यप्रणाली को अवरुद्ध कर सकती है जिसके कारण शरीर में कई प्रकार से विषाक्तता बढ़ने का खतरा रहता है। 

स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, सभी लोगों को किडनी की सेहत पर ध्यान देते रहना चाहिए, ऐसे आहार का सेवन करें जो इस अंग को स्वस्थ और बेहतर कार्य करते रहने में मदद कर सके। किडनी को स्वस्थ रखने के लिए भरपूर मात्रा में पानी पीते रहना भी आवश्यक माना जाता है। ध्यान रहे इस अंग में होने वाली किसी भी तरह की समस्या का असर पूरे शरीर को प्रभावित कर सकता है।

आमतौर पर पेशाब की समस्याओं को ही किडनी की बीमारी के लक्षण के तौर पर जाना जाता है पर क्या आप जानते हैं कि किडनी में होने वाली दिक्कतों के संकेत आपकी आंखों और त्वचा पर भी दिख सकते हैं? आइए जानते हैं कि किन लक्षणों के आधार पर किडनी की समस्याओं का पता लगाया जा सकता है?

  विशेषज्ञ

 अब स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, किडनी में होने वाली दिक्कतों को सिर्फ पेशाब से संबंधित लक्षणों या पेट दर्द तक सीमित करके नहीं देखा जाना चाहिए। किडनी में होने वाली किसी भी तरह की समस्या संपूर्ण शरीर की कार्यप्रणाली के लिए मुश्किलें बढ़ा सकती है। किडनी के ठीक से काम न करने की स्थिति में रक्त की अशुद्धि बढ़ने लगती है जिसके कई अंगों पर प्रत्यक्ष प्रमाण देखा जा सकता है। इससे संबंधित लक्षणों को लेकर सभी लोगों को अलर्ट रहने और समय पर स्थिति की जांच कराने की सलाह दी जाती है।

 

किडनी की बीमारी के कारण त्वचा की समस्याएं

अध्ययनकर्ताओं ने पाया कि किडनी के सही तरीके से काम न करने की स्थिति में त्वचा सूखी, परतदार और खुजली वाली हो सकती है। असल में किडनी रक्त से विषाक्त पदार्थों को फिल्टर करके हुए त्वचा को शुद्ध रक्त भेजती है। हालांकि इसके ठीक से काम न कर पाने की स्थिति में जब रक्त में विषाक्तता बढ़ जाती है तो इसके कारण त्वचा से संबंधित कई तरह की समस्याएं होने का खतरा हो सकता है। रक्त में विषाक्ता बढ़ना गंभीर रोगों का भी कारण बन सकता है।आंखों

 

 आंखों की दिक्कतें

त्वचा के साथ-साथ किडनी की समस्याओं के कारण आंखों की दिक्कतें भी महसूस हो सकती हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि यदि आप अपनी आंखों के आसपास सूजन महसूस कर रहे हैं और आंखों की जांच में इसका कोई स्पष्ट कारण समझ नहीं आता है तो ऐसी स्थिति में किडनी की जांच जरूर करवाएं।

 

किडनी की समस्याओं के अन्य लक्षण

डॉक्टर्स कहते हैं, शरीर के अंगों में हो रहे असामान्य बदलावों को ध्यान में रखकर किडनी की समस्याओं का समय रहते अंदाजा लगाया जा सकता है। किडनी में होने वाली समस्या या इसके ठीक से काम न कर पाने की स्थिति में मांसपेशियों में दर्द, सांस लेने में कठिनाई, बार-बार पेशाब का संक्रमण होने और पैरों में सूजन बढ़ने की दिक्कत महसूस हो सकती है।

किडनी को लेकर की गई जरा भी लापरवाही गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है, इस बारे में सभी लोगों को विशेष सावधानी बरतते रहने की आवश्यकता होती है।त्वचा में ऐसे लक्षणों का मतलब ठीक से काम नहीं कर रही किडनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here