जानिए आखिर सुशील ने सच जानने के बाद क्या किया : मेरी कहानी -मेरी पत्नी का डॉक्टर ही निकला उसका आशिक जिससे करवा रही थी इलाज,

0
51

जानिए कहानी सुशील नाम के एक व्यक्ति की है जो शादीशुदा है और जिस की पत्नी का आशिक वह डॉक्टर है, जिससे उसकी पत्नी अपना इलाज करवा रही थी। जी हां सुशील ने बताया कि मेरी पत्नी का डॉक्टर ही उसका आशिक है और जब मुझे ये बात पता चली, तब मुझे समझ नहीं आया कि मैं क्या करूं। तो चलिए अब आपको इस दिलचस्प कहानी से रूबरू करवाते है और बताते है कि आखिर सुशील ने अपनी पत्नी का सच जानने के बाद क्या किया।

मेरी पत्नी का डॉक्टर ही निकला उसका आशिक,  

  अपनी कहानी बताते हुए सुशील कहते है कि उनकी शादी को ज्यादा समय नहीं हुआ है, लेकिन वह कुछ दिनों से एक अजीब सी समस्या से जूझ रहे है। जी हां सुशील ने बताया कि उनकी पत्नी को डिप्रेशन की समस्या है और वह अपना इलाज करवाने के लिए एक काउंसलर के पास भी जाती है।

 बताई कि मुझे इससे कोई दिक्कत नहीं है, क्योंकि मुझे ऐसा लगता है कि अगर मैं उसकी जगह होता तो शायद वह भी मुझे पूरा सपोर्ट करती। मगर अब अपनी पत्नी का साथ देना मेरे लिए मुश्किल होता जा रहा है। वो इसलिए क्योंकि हाल ही में मैंने अपनी पत्नी को काउंसलर के साथ संबंध बनाते हुए पकड़ लिया।

  सुशील ने बताया कि वे दोनों एक दूसरे को गंदे गंदे मैसेज भी भेजते है और जब मैंने इस बारे में अपनी पत्नी से बात की तो वह एकदम अलग रूप में मेरे सामने आई। अगर मैं सीधे शब्दों में कहूं तो उसका ऐसा रूप मैंने पहले कभी नहीं देखा था। बहरहाल उसकी इस हरकत ने मुझे अंदर तक तोड़ दिया और मैं कभी सोच भी नहीं सकता था

  डिप्रेशन की आड़ में मुझे धोखा दे रही है। ऐसे में जब मैंने उससे इस बारे में बात करने की कोशिश की तो उसने कुछ नहीं कहा। जी हां वह बस इतना कहती है कि उसने जो भी किया उस बात का उसे पछतावा है। इसलिए अब मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं क्या करूं, क्योंकि मैं रोज रोज इन सब के बारे में सोच सोच कर मर रहा हूं

काउंसलर ने सुशील को दी यह सलाह 

वही इस बारे में फाउंडेशन होप के निर्देशक और वरिष्ठ मनोचिकित्सक डॉ दीपक रहेजा का कहना है कि मैं समझ सकता हूं कि इस समय आप कितना निराश और ठगा हुआ महसूस कर रहे होंगे और ऐसा इसलिए क्योंकि जिस व्यक्ति को धोखा मिलता है

वह खालीपन और अवसाद से जूझता ही है। मगर इसके बावजूद भी मैं आपसे यही कहूंगा कि आपको एक बार अपनी पत्नी से बात करनी चाहिए, क्योंकि वह जिस दौर से गुजर रही है, उसमें उन्होंने अपने अड़ियल व्यवहार से उस खालीपन को पूरा करने की कोशिश की होगी, जो इन दिनों में वह सह रही है।

अब जैसा कि आपने बताया कि आपकी पत्नी पिछले कुछ सालों से डिप्रेशन की समस्या से जूझ रही है और ऐसे में आपको उनके प्रति कोई भी फैसला नहीं लेना चाहिए। वो इसलिए क्योंकि कभी कभी अवसाद के रोगी अपने दर्द को कम करने के लिए किसी दूसरे के करीब आ जाते है।

बता दे कि विवाहेतर संबंध, वन नाइट स्टैंड और साथी से मिला धोखा जैसी दर्दनाक वास्तविकता को स्वीकार करना उनके लिए थोड़ा आसान होता है, लेकिन अगर वह लंबे समय तक इस तरह की भावना में लिप्त रहते है, तो आपकी शादी को खतरा हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here