शादीशुदा जीवन में अक्सर आती हैं ये परेशानियां, रिश्ते को कर सकती हैं खराब

0
45

 पति-पत्नी का रिश्ता बहुत नाजुक होता है। आजकल के रिश्तों को देखे तो छोटी सी बात

 

कई बार बहुत बड़ी बन जाती है, जिसकी वजह से कपल्स के बीच में लड़ाई झगड़ा शुरू होपति-पत्नी का रिश्ता बहुत नाजुक होता है। आजकल के रिश्तों को देखे तो छोटी सी बात कई बार बहुत बड़ी बन जाती है, जिसकी वजह से कपल्स के बीच में लड़ाई झगड़ा शुरू हो जाता है। रिश्ते में होने वाली परेशानियां कई बार इतनी बढ़ जाती हैं कि रिश्ता टूटने की नौबत आ जाती है

 

 तनाव सहने की क्षमता

 

रिश्ते में कई बार ऐसे मोड़ आ सकते हैं जहां पर आपको समझ ही न आए कि आगे क्या होगा, ऐसे में जिन लोगों में तनाव को सहने की ताकत नहीं होती वह सिचुएशन से भागने लगते हैं। ये भी रिश्ते को खराब करने का कारण बन सकता है।

असुरक्षित होना

अगर आपका पार्टनर आपको आपकी चीजों को करने से रोकता है, तो हो सकता है कि वह आप से असुरक्षित महसूस करता है। कई बार ऐसा तब होता है जब पार्टनर को आप पर कम विश्वास हो वहीं कई बार ऐसा तब भी होता है जब पार्टनर को लगने लगे कि आपका गोल आपको बहुत ज्यादा सफल बना देगा कि वह आपको इतना ज्यादा आगे न देख पाएं।

 परिवार की जरूरतों को पूरा करने में असफल

शादी आपके ऊपर कई सारी जिम्मेदारी लेकर आती है। और अगर आप इन जिम्मेदारियों को पूरा नहीं करते हैं तो आप दोनों में ही लड़ाई झगड़े होने लगते हैं। 

 समय की कमी 

पति हो या फिर पत्नी दोनों को ही अपने पार्टनर के वक्त की जरूरत होती है। लेकिन कई बार आप दोनों ही इतना व्यस्त हो जाते हैं कि आउटिंग पर जाना या फिर साथ में समय ही नहीं बिता पाते। ऐसे कपल्स उस स्पार्क को मिस करते चले जाते हैं।

 रिस्पेक्ट की कमी

हर कोई सम्मान का हकदार है। हम सभी चाहते हैं कि हमे सम्मान मिले लेकिन कई बार दूसरों को सम्मान देने की बारी में हम सभी पीछे रह जाते हैं। 

 दूसरे लोगों की दखलअंदाजी

अक्सर शादीशुदा जिंदगी तब खराब होती है जब इसमें कोई तीसरा हिस्सा लेने लगे। ये लोग कोई भी हो सकते हैं, आपके रिश्तेदार, दोस्त या फिर आपके आसपास रहने वाले। ये आपको खूब सलाह देंगे और आपके साथ ऐसा बर्ताव करेंगे

 आपके लिए लोयल हैं। लेकिन आपको ध्यान रखना है कि यही वह लोग हैं जो आपके रिश्ते को बर्बाद कर सकते हैं। इसलिए ध्यान रखें कि अपने आस पास मौजूद लोगों से रिश्ते को डिस्कस करने की जगह किसी काउंसलर से मुलाकात करें। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here